उपजिलाधकारी करहल ने चक मार्ग, एवं तालाब कब्जा मुक्त कराया।

उपजिलाधकारी करहल ने चक मार्ग, एवं तालाब कब्जा मुक्त कराया।

मैनपुरी
करहल

उपजिलाधकारी करहल ने आज क्षेत्रवासियों के लिए एक साथ दो स्थानों को कराया कब्जा मुक्त।

चक मार्ग, एवं तालाब हुए कब्जा मुक्त।

करहल तहसील के जैतपुर(जैनपुर) गाऺव में ग्रामीणों द्वारा चक मार्ग को अपने कब्जे में ले रखा था। इस चक मार्ग पर पशु इत्यादि बांध रखे थे। चक मार्ग को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था ग्रामीणों की शिकायत कर चक मार्ग की विधिवत पैमाइश कराई गई इसके पश्चात मनरेगा के द्वारा मिट्टी का कार्य तत्काल करवा दिया गया।जिससे कि चक मार्ग को पुनः अधिक्रमित(अतिक्रमण) न किया जा सके आवागमन सुचारू करवा दिया गया।

वहीं करहल क्षेत्र के गांव सड़ में लोगों द्वारा 56 बीघा के तालाब को समतल करके फसल उगाना प्रारंभ कर दिया था काफी दिनों से यह तालाब ग्रामीणों के कब्जे में था दबंगई के कारण लोग शिकायत करने से डरते थे लेखपाल से ग्राम समाज भूमि की पड़ताल कराने पर यह प्रकरण सामने आया विधिवत पैमाइश करने के पश्चात तालाब की भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया चार ट्रैक्टर के द्वारा
56 बीघे तालाब की बाउंड्री मेड़बंदी कराना प्रारंभ कर दिया है। लोगों के भारी विरोध के बाद भी तालाब की भूमि को अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है।
वर्तमान में तालाब का सीमांकन करने के पश्चात तालाब की मेड़बंदी का काम जारी है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
उत्तर प्रदेश News न्यूज़