दिल्ली: दिल्ली में देरी से मानसून ने दी दस्तक, लेकिन अब झमाझम बारिश दिला रही है गर्मी से राहत

दो दिनों से दिल्ली में झमाझम बारिश आखिर रूठे हुए मानसून ने मंगलवार को दिल्ली की हर गली को नुक्कड़ को भीगा के रखा दिया। सुबह से रूक-रूक हुई झमाझम बारिश ने लोगों को तपती गर्मी से राहत दिलाई। यह बीते 19 सालों में पहली बार है जब मानसून इतनी देरी से दिल्ली पहुंचा है। इससे पहले वर्ष 2002 में 19 जुलाई को मानसून ने दस्तक दी थी। अगले 24 घंटों में भी बारिश को लेकर यलो अलर्ट है और तेज बारिश की संभावना है। 

पिछले चार दिनों से बंगाल की खाड़ी से निचले स्तर पर हवाएं चल रही थी। इस वजह से नम हवाओं के साथ दक्षिण-पश्चिचम मानसून की उत्तर प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली में बारिश को लकेर स्थितियां बनी हुई थी। लेकिन, पड़ोसी राज्यों में बारिश  होने के बाद भी दिल्ली वासियों को बारिश को लेकर इंतजार करना पड़ रहा था। मंगलवार सुबह से ही दिल्ली में झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया। दिनभर रूक-रूक बारिश होती रही और चढ़ते पारे से लोगों को राहत मिली। दिनभर बादल छाए रहने के बाद शाम के समय कुछ देर के लिए धूप निकली। इस वजह से कुछ देर के लिए लोगों को उमस भी महसूस हुई। 

मौसम विभाग ने पिछले माह से ही मानसून के आगमन को लेकर घोषणाएं करना शुरू कर दी थी। लेकिन, मानसून ने दिल्ली से दूरी बनाए रखी। इसके बाद भी मानसून लंबे समय तक दिल्ली से रूठा रहा और 10 जुलाई की घोषणा पर भी नहीं पहुंचा। इस बीच बंगाल की खाड़ी से आने वाली नम हवाएं दिल्ली में पहुंच गई थी, लेकिन बारिश नहीं हो रही थी। अंत में दिल्ली वासियों का इंतजार खत्म हुआ और दिल्ली में मानसून की पहली बारिश दर्ज हुई। दिल्ली की बारिश ने भी नगर निगम की पोल खोल के रखी अधिकांश इलाको में जलभराव की स्थिति उत्पन हुई और लोगो को आने जाने में काफी उससे तकलीफ हो रही है ! अब देखते है ये मानसून दिल्ली वालो पर कब तक मेहरबान रहता है और जलभराव की स्थिति से कैसे दिल्ली के निगम और सरकार इसका समाधान निकलती है !

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
दिल्ली News