Delhi MCD Elections 2022, Jan Media TV

Delhi MCD Elections 2022 क्या 6 महीने के लिए टालेंगे दिल्ली में एमसीडी चुनाव? लोकसभा में पेश हुआ दिल्ली नगर निगम के एकीकरण वाला बिल

Delhi MCD Elections 2022 क्या 6 महीने के लिए टालेंगे दिल्ली में एमसीडी चुनाव? लोकसभा में पेश हुआ दिल्ली नगर निगम के एकीकरण वाला बिल

दिल्ली की तीनों नगर निगमों को एक करने वाला विधेयक (MCD Unification Bill) आज संसद में पेश हो गया. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय (MoS Home Nityanand Rai) ने दिल्ली में तीनों एमसीडी को एक करने संबंधी बिल (Delhi Municipal Corporation (Amendment) Bill 2022) लोकसभा (Lok Sabha) में पेश किया. हालांकि, इस दौरान कांग्रेस, बसपा समेत कई विपक्षी पार्टियों ने इसका विरोध किया. बता दें कि मंगलवार को केंद्र की मोदी कैबिनेट ने इस बिल को मंजूरी दी थी.

Delhi MCD Elections 2022 : केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने लोकसभा में दिल्ली नगर निगम संशोधन बिल 2022 (Delhi Municipal Corporation Amendment Bill) पेश कर दिया है। गौरतलब है कि इसी मंगलवार को मोदी कैबिनेट ने दिल्ली के तीनों नगर निगमों के एकीकरण पर अपनी मुहर लगा दी थी। कल यानी गुरुवार को भाजपा ने अपनी सभी सांसदों को लोकसभा की कार्यवाही में उपस्थित रहने के लिए व्हिप भी जारी किया था।

Delhi MCD Election 2022: दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनाव होने को लेकर अभी सस्पेंस बरकरार है. अब ऐसी कयास है कि एमसीडी चुनाव 6 महीने के लिए टल सकते हैं

लोकसभा में पेश किए गए इस विधेयक में जो प्रावधान हैं, उसके मुताबिक दिल्ली एमसीडी एक्ट संशोधन में सरकार का मतलब केंद्र सरकार होगा. इतना ही नहीं, स्पेशल ऑफिसर नियुक्त करने के साथ फंड की व्यवस्था म्यूनिसिपल अकाउंट्स में होगी. बता दें कि यह संशोधन दिल्ली के तीनों नगर निगमों का आपस में विलय करके उन्हें एक बनाएगा.

Delhi MCD Elections 2022 :

इसके पीछे की दो वजहें हैं- पहली तो यह कि 272 से वॉर्ड की संख्या 250 तक सीमित हो गई. वॉर्डों का एरिया बढ़ाने, अनुसूचित जाति और महिलाओं के लिए आरक्षित सीटों में बदलाव हुआ है. दूसरी वजह विधेयक के मुताबिक कानून के तहत निकाय की पहली बैठक जब तक आयोजित नहीं होती तब तक के लिए एक विशेष अधिकारी को नियुक्त किया जा सकता है

Delhi MCD Elections 2022 : बता दें कि नगर निगम के तीनों मेयर इसके एकीकरण का प्रस्ताव दे चुके हैं। उत्तरी निगम के महापौर राजा इकबाल सिंह, दक्षिणी के मुकेश सुर्यान व पूर्वी के श्याम सुंदर अग्रवाल ने केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा था। तीनों मेयरों ने इस प्रस्ताव में कहा था कि निगमों की खराब आर्थिक स्थिति से कर्मचारियों को वेतन मिलने में देरी हो रही है और विकास कार्य प्रभावित हो रहे हैं, ऐसे में इन्हें एक करने की आवश्यकता है।

दरअसल, साल 2017 में ईस्ट, साउथ और नॉर्थ एमसीडी का गठन 18 से 20 मई के बीच हुआ था. अब नियम ये कहता है कि आने वाली 18 मई 2022 तक निगम का गठन करने का समय है यानी चुनाव इससे पहले होना है |

Delhi MCD Elections 2022 : वहीं, चुनाव आयोग को नए निगम के गठन के लिए चुनाव की घोषणा के लिए कम से कम 30 दिन का समय देना होता है. ऐसे में चुनाव आयोग 18 अप्रैल तक प्रक्रिया पूरी करने का इतजार करेगा. अब चूंकि वॉर्ड संख्या कम हो गई. लिहाजा अब चुनाव टलेगें. दिल्ली नगर निगम (संशोधन) विधेयक, 2022 में शायद इसीलिए एडमिनिस्ट्रेटर नियुक्त कर दिया है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks