UP Assembly Elections 2022 क्या शिवपाल ओवैसी के साथ मिलकर रावण और राजभर के साथ नया मोर्चा बनाएंगे , देखिये खास रिपोर्ट

UP Assembly Elections 2022 क्या शिवपाल ओवैसी के साथ मिलकर रावण और राजभर के साथ नया मोर्चा बनाएंगे , देखिये खास रिपोर्ट

भीम आर्मी के चन्द्रशेखर आजाद ने सुभासपा अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर द्वारा बनाए गए भागीदारी संकल्प मोर्चा के साथ मिलकर up assembly elections 2022 चुनाव लड़ने की बात कही है । दोनों नेताओं की बातचीत में साथ आने पर सहमति बन गई है। अगले कुछ दिनों में दोनों नेता साथ आने की घोषणा करेंगे। इस बीच मोर्चा का कुनबा और बढ़ाने के लिए ओम प्रकाश राजभर और एआईआईआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव से लगातार संपर्क बनाए हुए हैं। बताया जा रहा है शिवपाल और ओवैसी की मुलाकात अखिलेश यादव ने लिया झटका है। अगर दाेनों के बीच समझौता हो जाता है तो up assembly elections 2022 में सपा के वोट बैंक में सेंध लगना तय है।

शिवपाल से ओवैसी ने की मुलाकात
up assembly elections 2022 के सिलसिले में ओवैसी ने मंगलवार रात शिवपाल यादव के आवास पर जाकर उनसे मुलाकात की। दोनों नेताओं ने इसे शिष्टाचार भेंट बताया लेकिन माना जा रहा है कि शिवपाल को इस मोर्चे में शामिल कराने का प्रस्ताव दिया गया। अभी शिवपाल ने अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है। हालांकि इस साल फरवरी में भी औवेसी व शिवपाल यादव आजमगढ़ में एक विवाह समारोह में घंटे भर अलग मुलाकात कर चुके हैं।

भीम आर्मी के भागीदारी संकल्प मोर्चा में शामिल होने की पुष्टि ओम प्रकाश राजभर ने की है। उन्होंने कहा है कि बहुत जल्द लखनऊ में इसकी घोषणा की जाएगी। इस मुद्दे पर चंद्रशेखर से कई चक्र बातचीत हो चुकी है। राजभर का मानना है कि चंद्रशेखर के मोर्चे में शामिल होने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मोर्चा की ताकत और बढ़ जाएगी। साथ ही राजभर का दावा है कि इंसाफ विकास पार्टी के मुकेश सहनी से भी बातचीत जारी है और जल्द ही उनकी पार्टी भी मोर्चे का घटक दल बन सकती है।

ओम प्रकाश और ओवैसी ने लखनऊ में की बातचीत
मंगलवार को ही ओम प्रकाश राजभर और असदुद्दीन ओवैसी ने एक होटल में करीब डेढ़ घंटे तक बैठक की। बैठक में घटक दलों से मंथन कर सीटों का बंटवारा जल्द से जल्द किया जाना तय हुआ। ओम प्रकाश ने बताया कि उनके मोर्चे के साझा कार्यक्रम 27 अक्तूबर को मऊ से शुरू होंगे। उस दिन मऊ में एक सम्मेलन होगा जिसमें मोर्चे के सभी घटक दलों के नेता शामिल होंगे। इसके बाद जनसभाओं और रैलियों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। सम्मेलन में मोर्चे के सभी घटक दलों के नेता-भीम आर्मी के अध्यक्ष चन्द्रशेखर, एआईएमआईएम केअध्यक्ष ओवैसी, राष्ट्र उदय पार्टी के बाबू रामपाल, भागीदारी पार्टी के प्रेमचन्द प्रजापति, भारत माता पार्टी के रामसागर बिन्द, जनता उन्नति पार्टी के अनिल चौहान, अपना दल की कृष्णा पटेल और जन अधिकारी पार्टी के बाबूसिंह कुशवाहा, इंसाफ विकास पार्टी के मुकेश सहनी भी शामिल होंगे

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks