Varanasi

Urban Haat Vatanasi News वाराणसी: चौकाघाट फ्लाईओवर के नीचे अर्बन हाट बसाने का काम शुरू, दिसंबर तक काम पूरा करने का लक्ष्य

Urban Haat Vatanasi News वाराणसी: चौकाघाट फ्लाईओवर के नीचे अर्बन हाट बसाने का काम शुरू, दिसंबर तक काम पूरा करने का लक्ष्य

जाम का नया अड्डा बन चुके वाराणसी के चौकाघाट-लहरतारा फ्लाईओवर के नीचे के हिस्से की सूरत बदलने वाली है। फ्लाईओवर के करीब दो किलोमीटर एरिया में मार्डन शेल्टर होम, फूड कोर्ट और ग्रीन एरिया के निर्माण से लोगों को कई सुविधाएं मिलेंगी। साथ ही बेतरतीब यातायात को भी पटरी पर लाया जाएगा। अर्बन प्लेसमेकिंग और ट्रैफिक रोड इंफ्रास्ट्रक्चर योजना के तहत यहां काम शुरू कर दिया गया है। 

दिसंबर तक फ्लाईओवर के नीचे के करीब दो किलोमीटर लंबे क्षेत्र में बनारसी खानपान से लेकर पार्किंग, वेटिंग एरिया सहित अन्य सुविधाएं विकसित करने की तैयारी है। इसके साथ ही फ्लाईओवर के दोनों छोर की दीवारों को काशी के धर्म, कला और संस्कृति का एहसास कराने वाली कलाकृतियों से संवारा जाएगा।
बनारस की खूबसूरती को हजार चांद लगाने की भी तैयारी
इस पूरे एरिया को विकसित कर बनारस की खूबसूरती को हजार चांद लगाने की भी तैयारी है। लहरतारा से शुरू होकर चौकाघाट में खत्म होने वाले फ्लाईओवर के नीचे ही कैंट रेलवे स्टेशन और कैंट रोडवेज का मुख्य द्वार है। यहां रोजाना हजारों लोग गुजरते हैं, ऐसे में फ्लाईओवर के नीचे के हिस्से में पब्लिक प्लाजा, वॉकिंग ट्रेल, पेवमेंट्स, यूरिनल, पीने के पानी की सुविधा, इंफॉर्मेशन कियॉस्क, स्ट्रीट बेंच और कूड़ेदान की भी व्यवस्था की जाएगी।
सुविधाएं पर्यटकों को लुभाएंगी

स्मार्ट सिटी के तहत प्रस्तावित अर्बन प्लेसमेकिंग की योजना को साकार करने के लिए फ्लाईओवर के नीचे के हिस्से में काम शुरू कर दिया गया है। कैंट रेलवे स्टेशन के सामने के हिस्से में फूड कोर्ट को विकसित करने की योजना है और रोडवेज बस अड्डे के पास वेटिंग एरिया बनाया जाएगा। कमलापति त्रिपाठी इंटर कॉलेज के सामने पार्किंग होगी।

इसके अलावा इस क्षेत्र में ठेला-पटरी व्यापारियों के लिए स्मार्ट सिटी द्वारा प्रस्तावित वेंडिंग जोन भी बनाए जाएंगे। मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने कहा कि अर्बन प्लेस, अर्बन प्लेसमेकिंग और ट्रैफिक रोड इंफ्रास्ट्रक्चर योजना का काम शुरू कर दिया गया है। दिसंबर तक इस काम को पूरा करने की समय सीमा रखी गई हैै। यहां की सुविधाएं पर्यटकों के साथ स्थानीय लोगों को भी लुभाएंगी

चौराहे होंगे ट्रैफिक सिग्नल से लैस

कैंट रेलवे स्टेशन और कैंट बस अड्डे के इर्द-गिर्द बेतरतीब तरीके से फ्लाईओवर के नीचे ऑटो और ई-रिक्शा खड़े रहते हैं। इसके चलते रेलवे स्टेशन से रोडवेज के बीच रोजाना जाम लगता है। इस प्रोजेक्ट में ऑटो और ई-रिक्शा के लिए स्थाई पार्किंग का भी प्रावधान किया गया है। इसके अलावा फ्लाईओवर के नीचे पड़ने वाले चौराहों-तिराहों को ट्रैफिक सिग्नल सिस्टम से लैस किया जाएगा। 

एक नजर में

  • मॉडर्न सेल्टर होम, वेंडिंग जोन और इन्फॉर्मेशन कियॉस्क भी होगा
  • कैंट स्टेशन के सामने फूड कोर्ट, ओपन कैफे बनेगा
  • रोडवेज बस अड्डे के सामने होगा वेटिंग एरिया
  • फ्लाईओवर के दोनों छोर पर बनाया जाएगा प्रशाधन और पेयजल
  • कमलापति त्रिपाठी इंटर कालेज के सामने और अंधरा पुल से पहले होगी पार्किंग
  • पार्क, लैंड स्कैपिंग, सेल्फी प्वाइंट, वाकिंग ट्रेल सहित अन्य सुविधाएं भी होंगी

Varanasi News 50 smart e-Bus वाराणसी: पांच अक्तूबर को पीएम मोदी देंगे 50 स्मार्ट ई-बसों की सौगात, कितना होगा किराया

Varanasi News 50 smart e-Bus वाराणसी: पांच अक्तूबर को पीएम मोदी देंगे 50 स्मार्ट ई-बसों की सौगात, कितना होगा किराया

वाराणसी: पांच अक्तूबर को पीएम मोदी देंगे 50 स्मार्ट ई-बसों की सौगात, कितना होगा किराया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अक्तूबर को 50 स्मार्ट इलेक्ट्रानिक बसों की सौगात देंने जा रहे हैं। पीएम वर्चुअल माध्यम से प्रदेश भर के अलग अलग शहरों में ई-बसों को हरी झंडी दिखाएंगे। वाराणसी में प्रशासनिक स्तर पर तैयारी युद्ध स्तर पर कर दी गई है। यातायात पुलिस और रोडवेज को रूट तय करने की जिम्मेदारी सौंप दी गई है।

रूट का चयन यात्रियों की जरूरतों को ध्यान में रखकर होगा। साथ ही नगरीय परिवहन निदेशालय ने किराया भी निर्धारित कर दी है। ई-बसें पूरी तरह से वातानुकूलित होंगी। रोडवेज क्षेत्रीय प्रबंधक कमलाकांत तिवारी ने बताया कि तैयारियां चल रही हैं। बस का किराया निर्धारित करने के बाद अब रूट का खाका तैयार हो रहा है। मिर्जामुराद में चार्जिंग स्टेशन का कार्य चल रहा है अंतिम चरण में है। 
किलोमीटर       बस का किराया 
    03                10                  
    06                15                    
    10                20
    14                25
    19                30
    24                35
    30                40
    36                45
    42                50

images 43

Cruise service between Varanasi and Vindhyachal वाराणसी और विंध्याचल के बीच जल्द ही बोट क्रूज सर्विस होगी जल्द शुरू

Cruise service between Varanasi and Vindhyachal वाराणसी और विंध्याचल के बीच जल्द ही बोट क्रूज सर्विस होगी जल्द शुरू

वाराणसी और विंध्याचल के बीच जल्द ही बोट क्रूज सर्विस होगी जल्द शुरू

काशी से विंध्याचल चलेगी रो रो बोट सर्विस, विंध्यवासिनी दर्शन करके उसी दिन वापसी। इसके जरिए दर्शन करने आए तीर्थयात्री एक दिन में ही वाराणसी में बाबा विश्वनाथ के साथ विंध्याचल मां के भी दर्शन करके लौट सकते हैं। इसके लिए गंगा में दो बोट से इसकी शुरुआत हो रही है।
वाराणसी में मां गंगा की लहरों के बीच तैरते भक्ति के दीपों के साथ ही बोट क्रूज भी देख सकेंगे, इस बोट क्रूज में सवार होकर आप सिर्फ गंगा की लहरों का ही आनंद नहीं ले सकते हैं बल्कि आप इससे विंध्याचल मां के दर्शन भी कर सकेंगे। धार्मिक टूरिज्म और रोजगार बढ़ाने के लिए सरकार काशी विश्वनाथ कॉरिडोर से विंध्याचल तक रो रो बोट सेवा शुरू कर रही है।इस सेवा से तीर्थयात्री एक दिन में विंध्याचल दर्शन कर वापस लौट सकते हैं उस वक्त गंगा की लहरों और मनोहारी दृश्यों का भी आनंद ले सकते हैं, अभी मिर्जापुर में चुनार तक ही सेवा शुरू हुई है।
एक बार में 200 यात्री ही जा सकते हैं, 70 किमी का सफर होगा।
क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी कीर्तिमान श्रीवास्तव का कहना है कि दो बोट इस मार्ग पर चलाई जाएंगी।जिनका नाम स्वामी विवेकानंद और एमवी सैम मानेकशॉ है जो करीब 10 महीने से गंगा में खड़े हैं। इसके माध्यम से काशी विश्वनाथ कॉरिडोर और विंध्याचल को जुड़ जाएगा।

Varanasi News

Varanasi News वाराणसीः ट्रेन से रेस लगाने में दर्दनाक हादसा, कार सवार महिला समेत तीन की मौत

Varanasi News वाराणसीः ट्रेन से रेस लगाने में दर्दनाक हादसा, कार सवार महिला समेत तीन की मौत

वाराणसी में बुधवार की सुबह ट्रेन से रेस लगाने की कोशिश में दर्दनाक हादसा हो गया। प्रयागराज वाराणसी हाईवे पर तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होने के बाद डिवाइडर को पार कर दूसरी लेन में चली गई। इस दौरान सामने से आ रहे ट्रेलर की चपेट से उसके परखचे उड़ गए। हादसे में कार सवार महिला समेत तीन लोगों की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल है। हादसा इतना भयानक था कि कार में फंसे लोगों को निकालने के लिए घंटों मशक्कत करनी पड़ी। घटना रोहनिया थाना क्षेत्र के राजातालाब बीरभानपुर के पास हुई।

प्रयागराज के अंदावा के रहने वाले अखिलेश पटेल सहारा परिवार फाइनेंस में नौकरी करते हैं। अखिलेश पटेल की मां लीलावती और बड़े बड़े बेटे आशुतोष को बिहार के सिवान जाने के लिए प्रयागराज से ट्रेन पकड़ा था। एक कार से लीलावती, आशुतोष, परिवार के अजित और अखिलेश का छोटा भाई शैलेश भोर में चार बजे स्टेशन के लिए निकले। कार शैलेश चला रहा था। आगे सीट पर अजित पिछली सीट पर लीलावती, उनका पोता चंदन बैठे थे। चारों कार से प्रयागराज स्टेशन पहुंचे तो ट्रेन निकल चुकी थी। ऐसे में ट्रेन को अगले स्टापेज से पकड़ने के लिए सभी ने भदोही के गोपीगंज स्टेशन जाने का फैसला किया। तेज रफ्तार से कार भदोही के गोपीगंज स्टेशन पहुंची। लेकिन तब तक ट्रेन यहां से भी निकल चुकी थी। ट्रेन का अगला स्टापेज वाराणसी था। अब वाराणसी में ट्रेन को पकड़ने का फैसला किया गया। ट्रेन से भी तेज वाराणसी पहुंचने की कोशिश शुरू हुई।

इसी दौरान हाईवे पर राजातालाब बीरभानपुर के पास तेज रफ्तार कार अनियंत्रित हो गई। कार डिवाइडर से टकराने के बाद उसे पार करते हुए दूसरी लेन में चली गई। इसी दौरान सामने से आ रहे ट्रेलर ने कार को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में कार के परखचे उड़ गए। आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस पहुंची लेकिन कार में बुरी तरह फंसे लोगों को निकालने में ही कई घंटे लग गए। इस दौरान लीलावती, उनके पोते और अजीत की मौत हो गई। शैलेश को गंभीर हालत में अस्पताल भेजा गया है।

Narendra Modi

वाराणसी के डॉक्टरों से पीएम मोदी ने किया संवाद, ‘जहां बीमार, वहीं उपचार’ का दिया नया मंत्र

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना काल में वाराणसी के चिकित्सकों से बातचीत की है। वाराणसी में प्रधानमंत्री ने कोरोना प्रबंधन को लेकर सीएम योगी और प्रशासनिक अफसरों की तारीफ की है। इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं काशी का एक सेवक होने के नाते हर एक काशीवासी का हृदय से धन्यवाद देता हूं। विशेष रूप से हमारे डॉक्टर्स, नर्सेज, वार्ड बॉयज और एम्बुलेंस ड्राइवर्स ने जो काम किया है, वो वाकई सराहनीय है।

इस वायरस ने हमारे कई अपनों को हमसे छीना है। मैं उन सभी लोगों को अपनी विनम्र श्रद्धांजलि देता हूं। परिजनों के प्रति सांत्‍वना व्‍यक्‍त करता हूं। सेकेड वेव में कई मोर्चों पर एक साथ लड़ना पड़ रहा है। इस बार संक्रमण दर भी पहले से कई गुना जादा है। मरीजों को कई दिनों तक अस्‍पताल में रहना पड़ रहा है। बनारस वैसे भी काशी के लिए ही नहीं पूर्वांचल के स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं का केंद्र है।

मोदी ने कहा कि अब हमारा नया मंत्र है ‘जहां बीमार वहीं उपचार’। इस सिद्धांत पर माइक्रो-कंटेनमेंट जोन बनाकर जिस तरह आप शहर और गावों में घर घर दवाएं बांट रहे हैं, ये बहुत अच्छी पहल है। इस अभियान को ग्रामीण इलाकों में जितना हो सके, उतना व्यापक करना है।

पीएम मोदी ने ब्लैक फंगस का भी जिक्र किया, उन्होंने कहा कि इस बीमारी से सतर्क रहना है और एक्शन लेना है। पीएम मोदी ने कहा कि संकट के इस वक्त में जनता की नाराजगी भी झेलनी पड़ती है, लेकिन हमें अपने काम में लगे रहना है और उनके दुख को कम करना है।

IMG 20210226 WA0026

वाराणसी के मडुवाडीह के आर्या प्रकाश काशी के गूगल गर्ल के रूप में चर्चित

वाराणसी के मडुवाडीह के आर्या प्रकाश काशी के गूगल गर्ल के रूप में चर्चित
वाराणसी के मडुवाडीह के मड़ौली की रहने वाली 6 वर्षीय उम्र की आर्या प्रकाश है। इन दिनों गूगल गर्ल के नाम से चर्चित है। आर्या प्रकाश श्रीवास्तव कक्षा 1 में पढ़ती है। ए चंद सेकंड में काशी के 84 घाटों के नाम बता देती है साथ ही देश के तमाम धर्म ग्रंथों के श्लोक भी इसे याद है और सुना देती है।