Budget

Budget UP Paperless यूपी का बजट होगा पेपर लेस

यूपी का बजट भी होगा पेपर लेस
यूपी का बजट भी केंद्रीय बजट की तरह पेपरलेस होगा साथ ही कैबिनेट की अगली बैठक भी पेपर लेस होगी ।सीएम योगी आदित्यनाथ ने 1 कैबिनेट और बजट की तैयारी के निर्देश दिए। इसके लिए बजट सत्र से पहले विधान मंडल के सदस्यों को टेबलेट वितरित करने के भी निर्देश दिए मंगलवार को सीएम आवास पर मंत्रियों की आईपैड संचालित करने के गुर सिखाए गये साथ ही सिक्योरिटी फीचर्स की जानकारी भी दी गई ताकि तकनीक का सुरक्षा के साथ उपयोग कर सकें। सीएम ने विधायकों को भी टेबलेट का प्रशिक्षण संचालित करने के गुर सिखाए गये साथ ही सिक्योरिटी फीचर्स की जानकारी दी गई ।ताकि तकनीक का सुरक्षा के साथ उपयोग कर सकें। सीएम ने विधायकों को भी टेबलेट का प्रशिक्षण देने का दिया निर्देश। सीएम ने कहा की आधुनिक तकनीक के उपयोग से ही नया यूपी बनेगा तकनीक के उपयोग से करोना काल में जरूरतमंदों को समय पर सुविधाएं उपलब्ध कराई गई थी एक क्लिक से 8700000 लोगों के खाते में पेंशन जमा कराइ।सीएम के सचिव आलोक कुमार ने कैबिनेट व्यवस्था का प्रस्तुतीकरण देते हुए कहा कि इसमें सिक्योरिटी फीचर्स का ध्यान रखा गया । कैबिनेट में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से भी मंत्री बैठक में शामिल हो सकते हैं।

Budget 2021 – 22 वित्त मंत्री ने आज वर्क 21 -22 के लिए प्राप्ति और खर्च का लेखा-जोखा तथा वित्त विधेयक 2021 पेश किया ।ढाई लाख रुपए से ज्यादा पीएफ में

वित्त मंत्री ने आज वर्क 21 -22 के लिए प्राप्ति और खर्च का लेखा-जोखा तथा वित्त विधेयक 2021 पेश किया ।ढाई लाख रुपए से ज्यादा पीएफ में जमा करने वालों को झटका
पीएफ में ज्यादा पैसे सेव कर टैक्स बचाने वाले लोगों को इस वजह से तगड़ा झटका लगा अच्छी कमाई करने वाले लोग अब तक टैक्स फ्री के तौर पर पीएफ का इस्तेमाल करते थे पर इस बजट ने वह छूट खत्म कर दी 1 साल में ढाई लाख रुपए से ज्यादा पीएफ जमा करने पर मिलने वाला ब्याज अब टैक्स के दायरे में होगा इससे high-income सैलरी लोग सीधे तौर पर प्रभावित होंगे जो टैक्स फ्री इंटरेस्ट होंगे जो टैक्स फ्री इंटरेस्ट कमाने के लिए वॉलंटरी प्रोविडेंट का इस्तेमाल करते थे 2016 में इसी तरह के प्रस्ताव पर यह पहली बार नहीं है जब सरकार ने पीएफ मनी पर टैक्स लगाने का प्रस्ताव रखा है 2016 के बजट में भी प्रस्ताव आया था कि ईपीएफ के 60% पर अर्जित ब्याज को टैक्स के दायरे में लाया गया था हालांकि नए कर के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध होने लगा तो प्रस्ताव को वापस ले लिया गय

Budget 2021-22 Moter Vehicle : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज बजट पेश किया , 20 साल पुरानी 51लाख लाइट मोटर वाहनो को किया जाएगा स्कैप

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज बजट पेश किया ,20 साल पुरानी 51लाख लाइट मोटर वाहनो को किया जाएगा स्कैप
स्क्रैप पॉलिसी से प्रदूषण घटाने और सड़क सुरक्षा को बेहतर करने में मदद मिलेगी इसके साथ ही नई गाड़ियों की मांग बढ़ने से ऑटो इंडस्ट्री की सेहत सुधरेगी अनुमान लगाया जा रहा है कि इस पार्टी से करीब 2 .80 करोड़ वाहन स्क्रैप आलसी के अंदर आ जाएंगे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज आम बजट पेश किया इस बजट में कई नए ऐलान किए जिसमें स्क्रेपिंग पाल्सी को लेकर भी कहा गया बजट 21 में नई स्क्रैप पाल्सी को मंजूरी दे दी गई ।नई स्कैप पाल्रसी के अनुसार 15 साल पुरानी कमर्शियल गाड़ियों को स्क्रैप करने का ऐलान कर दिया गया तो वही पर्सनल गाड़ियों पर 20 साल है ऐसे में सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने इस फैसले पर अपना बयान दिया। नितिन गडकरी ने नई स्क्रैप पॉलिसी का स्वागत करते हुए कहा कि इससे देश को फायदा पहुंचेगा 51लाख लाइट मोटर वाहन जो 20 साल पुराने हैं ,उन्हें पूरी तरह स्क्रैप कर दिया जाएगा। इससे ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री बूस्ट होगी उन्होंने आगे कहा कि 34 लाख पुराने मोटर है जो 20 साल पुराने हैं

Shopping Cart