(प्रयागराज)ग्राम पंचायत चुनाव में हार की हतासा का आलम गांव में जातीय संघर्ष की स्तिथि बन रही

ग्राम सभा कोटवां हनुमानगंज (प्रयागराज)के परधानी चुनाव में हार की हतासा का आलम यह है कि बीती शाम और आज पुनः श्रीबसंतलाल गौड़ जी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सदस्य श्री Sushil Kumar Singh जी के घर पर विरोधियों द्वारा पत्थर बाजी की गई है।अब तक इस संदर्भ में प्रसासन द्वारा की गई कार्यवाही बेहद निराश करने वाली और वर्तमान सरकार के होते हुए यह अति दुर्भाग्यपूर्ण है।यहां यह बताना नितांत आवश्यक है कि कोटवा गांव के नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान श्री जयराम सिंह जी इस चुनौती को स्वीकार करते हुए “संवैधानिक व्यवस्था” के अनुरूप ही समस्या का निराकरण करने का प्रयास कर रहे हैं। वे किसी भी प्रकार की “हिंसा” के पक्षधर नही हैं |लेकिन गांव में भाँति भाँति के लोग रहते हैं… मैं जहां तक इस प्रकरण को देख पा रहा हूं, मुझे लगता है कि अब गांव में “जातीय संघर्ष” की स्थिति बन रही है