गाना-डांस और खाना-पीना विवाह नहीं है: SC

SC ने एक केस की सुनवाई के दौरान अहम टिप्पणी की। SC ने कहा ‘यदि अपेक्षित सेरेमनी नहीं की गई है तो हिंदू विवाह अमान्य है और पंजीकरण इस तरह के विवाह को वैध नहीं बताता। शादी सिर्फ गाना-डांस और खाना खाने या शराब पीने का आयोजन नहीं है। हिंदू विवाह के वैध होने के लिए 7 फेरे जैसे उचित संस्कार होने जरूरी हैं। विवाह भारतीय समाज का महत्वपूर्ण आयोजन है, जो एक पुरुष और महिला को पति-पत्नी का दर्जा देता है।