क्रिसमस डे : नाइट कर्फ्यू की बंदिशें टूटी, यीशु के दर्शन को उमड़ा जन सैलाब

क्रिसमस डे : नाइट कर्फ्यू की बंदिशें टूटी, यीशु के दर्शन को उमड़ा जन सैलाब

गोशालाओं की भव्य झांकियों के बीच शनिवार को मानवता और कल्याण के लिए धरा पर प्रभु यीशु के आगमन की हर तरफ खुशियां छा गईं। सीएनआई के लखनऊ डायोसेशन और रोमन कैथॉलिक के बिशप हाउस सेंट जोसेफ सेमिनरी में प्रभु यीशु मसीह के जन्म पर शनिवार की सुबह विशेष प्रार्थना सभाएं हुईं।
कैंडल लाइट, क्रिसमस ट्री और कैरल सिंगिंग के बीच शनिवार की रात मसीही समुदाय के परम पिता परमेश्वर यीशु की झांकियों के दर्शन के लिए जन सैलाब उमड़ पड़ा। क्रिसमस की खुशियों के आगे कोरोना कर्फ्यू की परवाह किए बगैर लोग क्रिसमस की खुशियां बांटने के लिए निकले। ऑल सेंट्स चर्च के गेट और चहारदीवारी के चारों तरफ रेला उमड़ने की वजह से बैरिकेडिंग लगाकर रास्तों पर वाहनों का आवागमन बंद करना पड़ा। यीशु दरबार से लेकर बिशप हाउस और गिरजाघरों तक देर रात तक हर वर्ग, समुदाय के लोगों का तांता लगा रहा।

गोशालाओं की भव्य झांकियों के बीच शनिवार को मानवता और कल्याण के लिए धरा पर प्रभु यीशु के आगमन की हर तरफ खुशियां छा गईं। सीएनआई के लखनऊ डायोसेशन और रोमन कैथॉलिक के बिशप हाउस सेंट जोसेफ सेमिनरी में प्रभु यीशु मसीह के जन्म पर शनिवार की सुबह विशेष प्रार्थना सभाएं हुईं। सेंट जोसफ चर्च में सुबह आठ बजे नाजरेथ अस्पताल के निदेशक लुइस मास्करेनेस ने सामूहिक प्रार्थना कराई। जबकि, पत्थर गिरजाघर में बिशप डॉ. पीटर बलदेव ने सुबह नौ बजे बाइबिल का पाठ कर प्रार्थना की।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks