Ali Akabar, Jan Media TV

Ali Akabar अली अकबर अब होंगे रामसिम्हन, CDS रावत की शहादत पर हँसने वाले रवैये से दुःखी हो इस्लाम त्याग कर बने हिन्दू

Ali Akbar: इस्लाम छोड़कर हिंदू बनेंगे फिल्म डायरेक्टर अली अकबर, बिपिन रावत पर कट्टरपंथियों के रवैये से हैं नाराज

जाने-माने मलयालम फिल्म निर्देशक अली अकबर ने इस्लाम धर्म छोड़ने की घोषणा कर दी है. साथ ही उन्होंने अपना नाम बदलते हुए नया नाम ‘रामसिम्हन’ रखा है. अली अकबर ने फेसबुक पर लाइव सेशन के जरिए इसकी घोषणा की. अली अकबर ने कहा कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत की मौत की खबर के बाद सोशल मीडिया पर जश्न मनाया जा रहा है और वह इसके विरोध में धर्म छोड़ने का फैसला कर रहे हैं. डायरेक्टर ने यह फैसला सीडीएस बिपिन रावत की मौत को लेकर सोशल मीडिया पर चल रही नकारात्म खबरों से दुखी होकर लिया है.

फिल्म निर्माता अली अकबर (Ali Akbar) ने अपनी पत्नी के साथ हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया. उन्होंने कहा है कि वे जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) की मौत का अपमान करने वालों के चलते इस्लाम (Islam) छोड़ रहे हैं. कथित रूप से कई लोगों ने जनरल रावत की मौत से जुड़ी पोस्ट पर ‘स्माइली इमोटिकॉन’ का इस्तेमाल किया था. बुधवार को तमिलनाडु के कुनूर जिले में हुए एक हादसे में सैन्य अधिकारी समेत 13 लोगों की मौत हो गई थी.

अली अकबर ने कहा, उनका नाम अब रामसिम्हन होगा. कल से आप मुझे रामसिम्हन कह सकते हैं. यह एक अच्छा नाम है. अली अकबर ने कल फेसबुक पर यह इंगित किया था कि कुछ लोग बिपिन रावत की मौत की खबर के लिए सोशल मीडिया पर स्माइली डाल रहे हैं.

बीते दिनों अली अकबर ने बिपिन रावत की वीरगति का लाइव वीडियो बनाया था, जिस पर कुछ कट्टरपंथी लोगों ने हंसने वाला इमोजी लगाया था। इस दौरान इन लोगों ने सीडीएस रावत का मजाक उड़ाने की कोशिश की थी। लोगों के इसी रवैये से अली अकबर की भावनाएं आहत हुई हैं। उन्होंने फेसबुक लाइव में आकर इस बारे में बात की। बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देते हुए अली अकबर ने कहा, ‘इस बात को कभी स्वीकार नहीं किया जा सकता है और इसलिए मैं अपना धर्म छोड़ रहा हूं। मेरे और मेरे परिवार का कोई धर्म नहीं है।

एक अन्य पोस्ट में अकबर ने लिखा, ‘देश को उन लोगों की पहचान करनी चाहिए और सजा देनी चाहिए, जो सीडीएस की मौत पर हंस रहे हैं.’ टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में अकबर ने कहा कि सोशल मीडिया पर कई राष्ट्र विरोधी गतिविधियां होती हैं औऱ रावत की मौत पर हंसना इसका ताजा उदाहरण है. उन्होंने कहा, ‘ज्यादातर लोग जो स्माइलिंग इमोटिकॉन्स के साथ कमेंट कर रहे हैं और रावत की मौत की खबर पर जश्न मना रहे हैं, वे मुस्लिम हैं.’

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks