नाक मुंह नहीं, नली से सांस लेने वाले बच्चे का दर्द:

जबलपुर में दो वर्षीय मासूम दुर्लभ सबग्लोटिक स्टेनोसिस बीमारी से पीड़ित है। गले की इस दुर्लभ बीमारी से पीड़ित मासूम गले के नीचे छेद कर नली की मदद से सांस ले पाता है। नाक और मुंह से वह सामान्य बच्चों की तरह सांस नहीं ले सकता है। मासूम हर 10-15 दिन में बीमार हो जाता है। इस बीमारी के इलाज में 12 लाख रुपए खर्च होंगे, लेकिन मासूम के इलाज में कंगाल हो चुके परिवार के पास इतने पैसे नहीं हैं पिता ने मदद की गुहार लगाई है।जबलपुर के संजय नगर अधारताल निवासी आकाशवथाव के दो बेटों में छोटा रूद्रांश वथाव सबग्लोटिकस्टेनोसिस नाम की दुर्लभ बीमारी से पीड़ित है। इसबीमारी में सांस की नली बाधित हो जाती है। वहसामान्य बच्चों की तरह मुंह और नाक से सांस नहीं लेपाता। मासूम बोल भी नहीं पाता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks