कोरोना से बचाव को प्रयागराज में भी लगेगा स्पूतनिक-वी टीका

कोरोना से बचाव को प्रयागराज में भी लगेगा स्पूतनिक-वी टीका

कोरोना से लड़ाई में बचाव के लिए टीकाकरण में गैमेलिया रिसर्च सेंटर ऑफ रशिया का स्पूतनिक-वी टीका शहर में भी उपलब्ध होगा। प्रीती नर्सिंग होम एंड मैटरनिटी सेंटर को केंद्र सरकार ने इसके लिए लाइसेंस दिया है। स्पूतनिक-वी वैक्सीन की दो डोज लगाई जाएंगी। दोनों के बीच 21 दिन का अंतराल होगा। टीकाकरण कराने वालों को स्पूतनिक की एक डोज के लिए सरकार की ओर से निर्धारित दर के मुताबिक 1145 रुपये देने होंगे।

यह जानकारी प्रीती नर्सिंग होम के डॉ. अनुज गुप्ता एवं ऋतु गुप्ता ने संयुक्त रूप से दी। उन्होंने बताया कि स्पूतनिक टीकाकरण के लिए देश के 33 केंद्रों में प्रीती नर्सिंग होम शामिल है। लखनऊ के बाद प्रदेश में यह दूसरा केंद्र है। जिसका लाइसेंस डॉ. एके गुप्ता ने नाम पर है।डॉ. ऋतु गुप्ता ने बताया कि यहां स्पूतनिक-वी की दक्षता 91.61 प्रतिशत है। इसके प्रभावी होने के प्रमाण को देखते हुए लोगों को इस वैक्सीन का इंतजार था। नर्सिग होम में नियमों के तहत टीकाकरण की पूरी तैयारी है। चिकित्सकों और टीम सदस्यों को प्रशिक्षित किया गया है।
स्पूतनिक के संबंध में जानकारी देने के लिए सीएमओ डॉ. प्रभाकर राय भी न्यूज रिपोर्टर्स क्लब के सभागार में हुई पत्रकार वार्ता में शामिल हुए। उन्होंने बताया कि स्पूतनिक-वी वैक्सीन की पहली डोज उपलब्ध है। दूसरी डोज की उपलब्धता होते ही टीकाकरण शुरू कराया जाएगा। इसमें दस दिन का समय लग सकता है।

अपर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. राहुल सिंह, प्रतिरक्षण अधिकारी की प्रतिनिधि डॉ. कनिका ने स्पूतनिक-वी के अतिरिक्त कोवीशील्ड और कोवैक्सीन के प्रभाव की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि निजी क्षेत्र में टीकाकरण शुरू होने से बड़ी आबादी को इसका लाभ मिलेगा। लोग खुद की सहूलियत के मुताबिक कोरोना से बचाव को वैक्सीन की डोज लगवा सकेंगे

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
न्यूज़