नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस से उतारे गए 33 नाबालिग बच्चे,

नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस से उतारे गए 33 नाबालिग बच्चे,

ह्यूमन ट्रैफिकिंग की सूचना पर जीआरपी और आरपीएफ ने रेस्क्यू किए बच्चे,

नोबेल विजेता कैलाश सत्यार्थी की संस्था बचपन बचाओ आंदोलन और चाइल्ड हेल्पलाइन की सूचना पर हुई कार्रवाई,

दोपहर 12:26 पर प्लेटफार्म नंबर 3 पर पहुंची नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 02549 से उतारे गए बच्चे,

इसमें कुछ बच्चे पश्चिम बंगाल और कुछ बच्चे बिहार के हैं रहने वाले,

इनमें 33 है नाबालिक
और 17 बच्चे हैं बालिग,

इन बच्चों को कानपुर और आनंद विहार ले जाया जा रहा था,

कुछ बच्चों को पंजाब के लुधियाना में सिलाई और मोमोज के काम के लिए ले जाया जा रहा था,

पकड़े जाने के बाद टीम लीडर्स ने उन्हें मदरसे में पढ़ाने की कही है बात,

हांलांकि कोविड के चलते मदरसे अभी है बंद,

सीडब्ल्यूसी मजिस्ट्रेट ने बच्चों और टीम लीडर्स का दर्ज किया बयान,

पकड़े गए सभी बच्चों और टीम लीडर्स का कराया गया है कोविड टेस्ट,

सभी की रैपिड एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट आई निगेटिव,

बच्चों से परिजनों से भी किया जा रहा है संपर्क,

हावड़ा से आनंद विहार जाती है ट्रेन नार्थ ईस्ट एक्सप्रेस,

सीडब्ल्यूसी मजिस्ट्रेट ने चाइल्ड वेलफेयर होम में भेजने के दिए निर्देश,

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
न्यूज़