, Jan Media TV

बाबा रामदेव ने इंडियन मेडिकल असोसिएशन और फार्मा कंपनियों को खुला खत लिखकर पूछे 25 सवाल

एलोपैथी को लेकर दिए विवादित बयान को वापस लेने के बाद रामदेव ने एक बार फिर इस चिकित्सा पद्धति पर सवाल उठाए हैं। बाबा रामदेव ने सोमवार को इंडियन मेडिकल असोसिएशन और फार्मा कंपनियों को खुला खत लिखर 25 सवाल पूछे हैं। उन्होंने कहा कि एलौपैथी सर्वशक्तिमान और सर्वगुण संपन्न है तो फिर एलोपैथी के डॉक्टर तो बीमार नहीं होने चाहिए। बाबा रामदेव ने बीपी, टाइप-1,टाइप-2 डायबिटीज, थायराइड जैसी कई बीमारियों को लेकर सवाल पूछा कि क्या उनके पास इनका स्थायी समाधान है।

एक डिबेट शो में बाबा रामदेव ने कहा कि आज भी ऐलोपैथिक के पास कई ऐसे मर्ज जिसका कोई निदान नहीं है जबकि आयुर्वेद में बीपी, सुगर, थॉयराइड जैसी बीमारियों को इलाज है। राजन शर्मा ने बाबा रामदेव से कहा कि आप लेवल 3 में जाकर धोती कुर्ता में जाकर काम कीजिए। इसके जवाब में बाबा रामदेव भड़क गए और कहा कि आप मेरी कुर्ता, लंगोट की बात मत कीजिए। आप खुद को सर्व शक्तिमान मत मानिए।

बाबा रामदेव ने कहा कि हमारे पास हाइपरटेंशन, बीपी, सुगर, जैसी ऐसी बीमारियों का इलाज है। हमारे पास एक करोड़ पेशेंट का डेटा है जिनको हमने ठीक किया है। बाबा रामदेव ने कहा कि सीरियस पेशेंट, सर्जरी, लाइफ सेविंग ड्रग्स को छोड़कर मैं दावा करता हूं कि सारे मर्ज का इलाज हमारे पास है। बाबा रामदेव ने कहा कि मैं मेडिकल साइंस का सम्मान करता हूं। आप भी योग साइंस का सम्मान कीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Shopping Cart
Enable Notifications    OK No thanks